Wednesday, February 8th, 2023

रिमझिम के तराने ले के हिन्दी लिरिक्स – Rimjhim Ke Tarane Le Ke Hindi Lyrics (Md.Rafi, Geeta Dutt, Kala Bazar)

मूवी या एलबम का नाम : काला बाज़ार (1960)
संगीतकार का नाम – एस.डी.बर्मन
हिन्दी लिरिक के लिरिसिस्ट – शैलेन्द्र
गाने के गायक का नाम – मो.रफ़ी, गीता दत्त

रिमझिम के तराने ले के आई बरसात
याद आये किसी से वो पहली मुलाक़ात
रिमझिम के तराने…

भीगे तनमन पड़े रस की फुहार
प्यार का संदेसा लाई बरखा बहार
मैं ना बोलू आँखे करे अँखियों से बात
रिमझिम के तराने…

सुन के मतवाले काले बादलों का शोर
रुमझुम, घुमघुम नाचे मन का मोर
सपनों का साथी चल रहा है मेरे साथ
रिमझिम के तराने…

जब मिलते हो तुम तो
छिड़ते हैं दिल के तार
मिलने को तुमसे मैं
क्यूँ था बेकरार
रह जाती हैं क्यों होठों तक
आ के दिल की बात
रिमझिम के तराने…