Saturday, February 4th, 2023

टिम टिम टिम हिन्दी लिरिक्स – Tim Tim Tim Hindi Lyrics (Bappi Lahiri, Har Kisse Ke Hisse हिन्दी लिरिक्स – Kaamyaab)

मूवी या एलबम का नाम : हर किस्से के हिस्से – कामयाब (2020)
संगीतकार का नाम – रचिता अरोड़ा
हिन्दी लिरिक के लिरिसिस्ट – नीरज पांडेय
गाने के गायक का नाम – बप्पी लाहिड़ी

इस गीता पर हाथ रखकर कसम खाओ
कि जो कहोगे सच कहोगे
सच के सिवा कुछ ना कहोगे

टिम टिम टिम टिम टिम टिम टिम
टिम टिम
अरे टिम टिम
करते हैं हरदम
रातों को जगमग
ओहो ओ
खेली है कितनी ही लंबी पारी
ओ ओ ओ
बारी बारी अरे कितनी सारी
ओ ओ
अरे यार देखा है इसको कहीं तो
रे देखा है देखा है इसको कहीं तो

बम्बई के समुंदर तट पर हमें ऐसी जगह चाहिए
जहाँ से जब चाहें, जितनी चाहें
हथियार हम हिंदुस्तान भेज सकें
पुलिस ने चारों तरफ से इस इलाके को घेर लिया है
तुम्हारा यहाँ से भागना नामुमकिन है
चलो डॉन पुलिस इंतज़ार कर रही है

सदियों से चलती कहानी के किस्से हैं
हम हर किस्से के हिस्से
सदियों से चलती कहानी के किस्से हैं
हम हर किस्से के हिस्से

हो पैदा हुआ जब हीरो
बन के डॉक्टर हम आए

मुबारक हो ऑपरेशन कामयाब हुआ है
आई ऐम सॉरी
अब इसे दवा की नहीं
दुआ की ज़रूरत है
दुआ की ज़रूरत है

हीरो के बाप पर जब
छाया जब एक्सट्रीम प्रेशर
तो आए रामू काका
का अवतार लेकर

बापूजी आप लोग पक्की सड़कों में
चक्कर लगाते हुए आते हो
और मैं कच्ची सड़क से सीधे चला आया
हाँ बहु सिर्फ करेला ही नहीं
कमल ककड़ी भी लाया हूँ
तेरे लिए कच्चे आम भी लाया हूँ
चटनी बनाऊँगा

सदियों से चलती कहानी के किस्से हैं
हम हर किस्से के हिस्से
सदियों से चलती कहानी के किस्से हैं
हम हर किस्से के हिस्से
अरे यार देखा है इसको कहीं तो
रे देखा है देखा है इसको कहीं तो
इसको कहीं तो

हे हीरो हुआ बड़ा जब
तो दोस्त बन गये हम
इश्क़ नौकरी और झगड़े में
साथी ही तो थे हम

खुद से बड़ी समझें
अपने दोस्त की कहानी
कुर्बान हम कर दें
अपनी भरी जवानी

नफरत ज़्यादा करता हुआ मारा जाएगा
नहीं राजेश, तुम मुझे छोड़ के नहीं जा सकते
मैं तुम्हें नहीं मरने दूँगा, नहीं मरने दूँगा

बुल बुल बुल्ला
विलेन का ख़ास बन कर
सबकी दुल्हनिया उठाई
(बुल्ला)
विलेन का ख़ास बन कर
सबकी दुल्हनिया उठाई
हीरो ने काँच तोड़ा
खूब की पिटाई

मेरा नाम है ईबू हटेला
माँ मेरी चुड़ैल की बेटी
बाप मेरा शैतान का चेला

अरे यार देखा है इसको कहीं तो
रे देखा है देखा है इसको कहीं तो
इसको कहीं तो

कुछ काम ऊँचे कर गये
पर सब की यादों से उतर गये
चमकना सितारों के हिस्से में आया
हम तो अंधेरे में ही गुज़र गए
गुज़र गए, गुज़र गए