[e-Challan] ट्रैफ़िक जुर्माना ई-चालान स्टेटस चेक व ऑनलाइन भुगतान

e Challan Dues | e Challan Check Status | e Challan Payment Online | e Challan Surat | UP Online Vehicle Challan | e Challan Pune | e Challan Vadodara | How to Submit e Challan Online | e Challan UK | UP Traffic Police Challan Rates | eChallan Payment Online

हममें से कितने लोग किसी भी भुगतान के लिए लंबी कतार में खड़े होना पसंद करते हैं और अपनी बारी का इंतजार करते हैं? यह एक बिजली का बिल भुगतान, फ़ोन का बिल भुगतान या शायद किसी भी तरह का जुर्माना और बहुत कुछ हो सकता है। जब हमारे पास आज ऑनलाइन सुविधा है, जहां सभी बिलों का भुगतान करने में 2-3 मिनट से कम समय लगता है, तो आप और मैं लाइन में क्यों खड़े होंगे?



लिहाजा, यातायात विभाग भी पीछे नहीं है। यदि आपको किसी ट्रैफ़िक नियम का पालन नहीं करने के लिए जुर्माना भरना पड़ता है, तो आप आसानी से ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं और बिल्कुल चिंता मुक्त रह सकते हैं। ट्रैफ़िक जुर्माना अब एक ई-चालान (E-Challan) के रूप में जाना जाता है जो कि ट्रैफ़िक पुलिस द्वारा उपयोग किया जाने वाला एक परिष्कृत कंप्यूटर-जनित चालान है और भारत में सभी ट्रैफ़िक डिफॉल्टरों को जारी किया जाता है।

यह भी पढ़ें – एक से दूसरे राज्य जाने हेतु राज्यवार प्रवासी श्रमिक पंजीकरण

ट्रैफ़िक जुर्माना या ई-चालान ऑनलाइन भुगतान

e Challan Online Payment & Check Status

About Vahan or Sarathi Traffic Fine Penalty or e-Challan Online Payment -: भारत सरकार ने यातायात सेवाओं को सुविधाजनक, आसान, प्रभावी निगरानी के साथ-साथ आम जनता के लिए पारदर्शी बनाने के लिए इस प्रक्रिया को लागू किया है। 

ट्रैफ़िक ई-चालान या परिवहन ई-चालान (Traffic eChallan or Parivahan e-Challan) आमतौर पर एंड्रॉइड सेल एप्लिकेशन और एक वेब गेटवे के माध्यम से भेजा जाता है। ट्रैफिक ई-चालान एप्लिकेशन के साथ एक ऐप भारत सरकार द्वारा शुरू किए गए वेब पोर्टल अनुप्रयोगों के साथ संयुक्त है, जो कि वाहन (Vahan) और सारथी (Sarathi) हैं। 

ये दो मोबाइल ऐप आपको कई लाभ और सुविधाएँ प्रदान करते हैं जो प्रशासन प्रणाली के सभी मुख्य पहलुओं को शामिल करते हैं। आप ट्रैफ़िक ई चालान का भुगतान ऑनलाइन और साथ ही ट्रैफ़िक पुलिस के कार्यालय में जाकर कर सकते हैं।

ट्रैफ़िक ई-चालान प्रक्रिया प्रवाह क्या है

What Is Traffic e-Challan Process Flow -:हम आपको ट्रैफिक ई-चालान सिस्टम के संचालन की प्रक्रिया के बारे में नीचे पूरी जानकारी प्रदान कर रहे हैं। यह कैसे कार्य करता है? कौन-कौन से इसके प्रमुख भाग हैं आदि। सभी बिंदुओं को ध्यानपूर्वक पढ़ें। 

पहला चरण: ई-चालान जारी करना:

  • सीसीटीवी फुटेज में सभी बकाएदारों को देखा जाता है। प्रवर्तन अधिकारी पंजीकरण और ड्राइविंग लाइसेंस नंबर के साथ वाहन और सारथी डेटाबेस से डिफॉल्टर का विवरण प्राप्त करता है और किए गए अपराध या गलती की श्रेणी को चुनता है।

दूसरा चरण: चालान भुगतान

  • आपको प्राप्त क्यूआर कोड को स्कैन करके ऑनलाइन भुगतान करने की अनुमति होगी या आरटीओ कार्यालय में नकद भुगतान कर सकते हैं या काउंटर पर नकद जमा कर सकते हैं।

तीसरा चरण: डेटा अद्यतन

  • एक संदेश आपको पंजीकृत फ़ोन नंबर के रूप में भेजा जाएगा। जुर्माने की राशि अपराध के अनुसार जोड़ी जाती है और प्रवर्तन अधिकारी सभी आवश्यक विवरणों के साथ ट्रैफिक ई-चालान का प्रिंट आउट लेता है और आपको वही देता है।

यह भी पढ़ें – आत्मनिर्भर भारत अभियान क्या है: Rs 20 लाख करोड़ पैकेज से किसको होगा फायदा

मोटर वाहन (संशोधन) विधेयक और दंड / पेनल्टी में किए गए परिवर्तन

Motor Vehicles (Amendment) Bill, 2019 & Changes for New New Penalties/Fines -: आपको इस तथ्य से अवगत होना चाहिए कि भारत में ट्रैफिक नियमों को नए मोटर वाहन (संशोधन) अधिनियम, 2019 के साथ लागू किया गया है। 

नए ट्रैफिक नियम सख्त हैं ताकि हम सभी यातायात नियमों का पालन करें। यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर कारावास के साथ पेनल्टी में वृद्धि की गई है।



अपराध का प्रकार

जुर्माना की राशि

सामान्य अपराध

पहली बार 500 व दूसरी बार 1500 रुपये

वैध लाइसेंस के बिना ड्राइविंग

5000 रुपये

बिना लाइसेंस के अवैध वाहन चलाना

5000 रुपये

वाहन तेज गति से चलना हल्के वाहन (निजी): 1000 से 2000 रुपये
  मध्यम यात्री या माल वाहन: 2000 से 4000 रुपये
  दूसरी बार, ड्राइविंग लाइसेंस को जब्त किया जाएगा

तेज गति से अनियंत्रित ड्राइविंग पहली बार: पुलिस कस्टडी 6 महीने से 1 साल तक और / या 1000 से 5000 तक का जुर्माना
  दूसरी बार: पुलिस हिरासत 2 साल तक और / या जुर्माना 10000 तक

नशा करके ड्राइविंग पहली बार: पुलिस हिरासत 6 महीने तक और / या 10000 का जुर्माना
  दूसरी बार: 2 साल तक कारावास और / या 15000 का जुर्माना

बीमा के बिना ड्राइविंग पहली बार: पुलिस हिरासत 3 महीने तक और / या 2000 का जुर्माना
  दूसरी बार: 3 महीने तक कारावास और 4000 का जुर्माना

सीट बेल्ट नहीं पहनने पर

1000 रुपये

बिना हेलमेट के दुपहिया चलना

1000 रुपये

आपातकालीन वाहनों को रास्ता नहीं देना

6 महीने की कैद और / या 10000 का जुर्माना

दुर्घटना संबंधित दंड पहली बार: 6 महीने तक कारावास और / या 5000 का जुर्माना
  दूसरी बार: 1 वर्ष तक कारावास और / या INR 10000 का जुर्माना

यह भी पढ़ें – लॉकडाउन स्पेशल ट्रेन टिकट बुकिंग व भोजन, किराया व अन्य दिशानिर्देश



ऑनलाइन ट्रैफिक ई-चालान जुर्माना की स्थिति की जांच प्रक्रिया

Procedure to Check Status of Traffic e-Challan Penalty Online -: यहां वे चरण दिए गए हैं जिनके माध्यम से आप ट्रैफ़िक ई-चालान जुर्माना स्थिति की ऑनलाइन देख सकते हैं। ट्रैफ़िक ई-चालान जुर्माना की स्थिति की जाँच या स्टेटस चेक करने के लिए प्रक्रिया बहुत ही सरल है। 

  • आपको राज्य के परिवहन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। (Click Here for Vahan Official Website or Click Here for Sarathi Parivahan Official Website)
  • “ऑनलाइन ट्रैफ़िक चालान भुगतान / Online Challan Payment” नामक अनुभाग पर क्लिक करें।
  • उपर्युक्त चरण के बाद, आपको उल्लंघन की श्रेणी का चयन करना होगा जिसके लिए जुर्माना देना है।
  • आपको ई-चालान या वाहन पंजीकरण नंबर भरना होगा।
  • वाहन जुर्माना की राशि आपके कंप्यूटर या मोबाइल स्क्रीन पर दिखाई जाएगी।
  • आपको कैप्चा कोड डालना होगा।
  • फिर आपको पेमेंट मोड जैसे डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड या किसी भी ई-वॉलेट जैसे पेटीएम का चयन करना होगा और फिर उसी के अनुसार भुगतान करना होगा।
  • भुगतान हो जाने के बाद, आपको एक संदेश मिलेगा जो ऑनलाइन ट्रैफ़िक चालान भुगतान की पुष्टि करेगा।

यह भी पढ़ें – वन्दे भारत मिशन: विदेश में फंसे भारतीय प्रवासियों हेतु फ्लाइट बुकिंग

ऑनलाइन या ऑफ़लाइन मोड से ट्रैफ़िक चालान का भुगतान कैसे करें

How to Pay Traffic Challan via Online or Offline Mode -: आप किसी भी समय ऑनलाइन ट्रैफ़िक चालान का भुगतान कर सकते हैं। हालांकि, जल्द से जल्द भुगतान करना बेहतर है ताकि यातायात कानूनों का अनुपालन किया जा सके। तो यहां आपके लिए कुछ सरल उपाय दिए गए हैं।

ऑफलाइन प्रक्रिया (e-Challan Offline Payment):

  • ऑफ़लाइन प्रक्रिया के अंतर्गत आप यातायात ई-चालान का भुगतान किसी भी यातायात निकटतम ट्रैफिक पुलिस स्टेशन में कर सकते हैं। 
  • यदि आपको पुलिस द्वारा कोई पत्र या रसीद मिली है, तो आपको वो ट्रैफ़िक उल्लंघन पत्र या रसीद ले जाना होगा।
  • वैकल्पिक रूप से, आप ट्रैफ़िक पुलिस अधिकारी से अनुरोध कर सकते हैं कि पहले के बकाया राशि, यदि कोई हो, और सभी दंडों का भुगतान एक साथ करें। 
  • सभी आवश्यक विवरण ट्रैफ़िक विभाग अधिकारियों के कंप्यूटर पर मौजूद होते हैं और वे पहले के ब्योरों को ट्रैक कर सकते हैं। 
  • किसी भी परिस्थिति में यातायात उल्लंघन के जुर्माने को लंबित रखने के लिए पर्याप्त समझदारी नहीं है और आपको भविष्य में बिना परेशानी के ड्राइविंग करने के लिए तुरंत भुगतान करना होगा।


ऑनलाइन प्रक्रिया (Online e-Challan Payment):

  • सबसे पहले परिवहन वेबसाइट की आधिकारिक साइट पर जाएं।
    • उदाहरण के लिए – दिल्ली परिवहन की आधिकारिक वेबसाइट https://delhitrafficpolice.nic.in/ है जहां शुल्क का भुगतान किया जा सकता है।
    • परिवहन विभाग की वेबसाइट (सभी राज्यों के लिए) से ई-चालान भुगतान हेतु यहाँ क्लिक करें
  • फिर आपको ई चालान के लिए शुल्क, हेलमेट नहीं पहनना, मौके पर जुर्माना और कई अन्य जुर्माना विकल्पों में से एक विकल्प चुनना होगा।
  • उसके बाद आपको उपयुक्त लिंक का चयन करना होगा और फिर उसके अनुसार आवश्यक विवरण भरना होगा।
  • फिर आपको नए और पुराने वाहन पंजीकरण नंबर या ट्रैफिक नियम उल्लंघन लेबल नंबर आदि प्रदान करंगा होगा (यदि यह जानकारी आपको ज्ञात है)।
  • उसके बाद आपको विवरण दर्ज करना होगा और ई – चालान राशि का भुगतान करना होगा। भुगतान के लिए आप अपने मास्टरकार्ड या वीज़ा कार्ड के साथ भुगतान कर सकते हैं।
  • अंत में आपका सुरक्षित गेटवे के माध्यम से भुगतान ई-चालान भुगतान हो जायेगा। भविष्य के सन्दर्भ के लिए कृपया भुगतान की रसीद का प्रिंटआउट अवश्य ले लें या अपने फ़ोन / कंप्यूटर में इसे डाउनलोड कर लें।



यह भी पढ़ें – प्रधानमंत्री उजाला योजना फ्री LED बल्ब व पंखे हेतु पंजीकरण

यदि आप ट्रैफ़िक ई चालान का भुगतान नहीं करते हैं तो क्या होगा?

What will happen if you will not pay the e-Challan through the online or offline mode? -: ऐसा हो सकता है कि आप ट्रैफ़िक नियम के उल्लंघन के जुर्माने का ई-चालान भुगतान करना पूरी तरह से भूल गए हों तो, आगे क्या होता है? यातायात नियम आजकल बहुत कठोर हैं। समय के भीतर ट्रैफिक ई-चालान या जुर्माना का भुगतान नहीं करने के पर प्रशासन आपके खिलाफ कानूनी कार्यवाही कर सकता है।

यदि आप किसी कारण से भुगतान नहीं करते हैं, तो अदालत से लाइसेंस धारक के आवासीय पते पर एक समन भेजा जाएगा, जिसमें आपको अदालत में पेश होने और यातायात नियमों के उल्लंघन पर न्यायाधीश के सामने स्पष्टीकरण देने के लिए कहा जाएगा।

अगर आप सामान मिलने के बाद भी ट्रैफिक ई-चालान का भुगतान नहीं करते हैं तब आपका ड्राइविंग लाइसेंस निलंबित कर दिया जाता है। इसलिए, ट्रैफ़िक ई चालान का भुगतान नहीं करना किसी भी तरह से एक अच्छा विकल्प नहीं है। तुरंत भुगतान करना याद रखें ताकि सभी कानूनी परेशानियों से बच सकें।

यह भी पढ़ें – [Rs 6000] पीएम किसान सम्मान निधि 5वीं किश्त लाभार्थी सूची 2020

ट्रैफ़िक ई चालान प्राप्त करने से कैसे बचें?

How you can avoid e-Challan? -: मूल रूप से, जैसा कि कहा जाता है कि “रोकथाम हमेशा इलाज से बेहतर है” अतः यदि आप ट्रैफ़िक नियमों और विनियमों का पालन करते हैं, तो आप कोई ट्रैफ़िक ई चालान जारी नहीं किया जायेगा। 

आइए हम पहले खुद ही ट्रैफिक नियमों को तोड़ने से बचें ताकि जुर्माना देने का सवाल ही न उठे। कुछ निश्चित नियम हैं जो यदि आप अपनाते हैं तो आप ट्रैफिक ई चालान के भुगतान से आसानी से बच सकते हैं:

  • पहला नियम: हमेशा समय के पाबंद रहे। हमेशा घर से जल्दी निकले जिससे आप अपने गंतव्य तक समय से पहले पहुँच जाएँ। इससे आप यातायात और देर से पहुँचाने की चिंता दोनों से सकते हैं। 
  • दूसरा नियम: सभी यातायात नियमों का अनिवार्य रूप से पालन करें। वास्तव में, नियमों का पालन करना कई बार कठिन हो सकता है और लेकिन बाद में माफी माँगने से अच्छा है हम पहले ही सुरक्षित चलें जिससे हमें चालान भुगतान करने की नौबत का सामना ही न करना पड़े।
  • तीसरा नियम: सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज और संबंधित कागजात जैसे कि वाहन का आरसी, कार बीमा कागजात, पीयूसी को वाहन चलते समय अपने पास हमेशा ही रखें, क्योंकि किसी भी समय कोई भी प्रशासनिक अधिकारी या यातायात पुलिस इनकी जांच कर सकते हैं।



यह भी पढ़ें – स्वामित्व योजना: ई-ग्राम स्वराज पोर्टल व मोबाइल ऐप डाउनलोड हिंदी में

हम अपने जीवन में खुद को किसी भी प्रकार के डिफॉल्टर के रूप में देखना पसंद नहीं करते हैं और इसलिए ट्रैफ़िक ई चालान का भुगतान समय पर करना एक समझदारी वाला कदम है। 

तो, पहले यातायात नियमों का पालन करें और, अगर गलती से कोई नियम तोड़ा है और आपको ट्रैफ़िक का भुगतान करना है, तो समय के भीतर भुगतान करें और बिना परेशानी के अपना वाहन चलाएं।

हमारा फेसबुक पेज लाइक करें

आपका समर्थन


उम्मीद है आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी से जरूर लाभ मिलेगा। यदि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई हो तो कृपया अपने मित्रों तथा परिवारजनों के साथ जरूर शेयर करें।


यदि आपको इस जानकारी से सम्बंधित कोई जानकारी हेतु मदद चाहिए, तो आप हमसे सहायता ले सकते हैं। कृपया अपना प्रश्न नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें। हमारी टीम आपकी पूरी सहायता करेगी। यदि आपको किसी और राज्य या केंद्र सरकार की योजना की जानकारी चाहिए तो कृपया हमें कमेंट बॉक्स में हमसे पूछें।

You may also like...