उत्तराखंड वैष्णवी सुरक्षा योजना आवेदन – व्हाट्सप्प/हेल्पलाइन

Vaishnavi Suraksha Yojana Uttarakhand | वैष्णवी सुरक्षा योजना 2021 | वैष्णवी सुरक्षा योजना क्या है | Vaishnavi Suraksha Yojana Online Form | Vaishnavi Suraksha Yojana Apply Online | Vaishnavi Suraksha Yojana PDF Form Download | Vaishnavi Suraksha Yojana in Hindi | Vaishnavi Suraksha Benefits

vaishnavi-suraksha-yojana-applyमहिला सशक्तिकरण एक ऐसा विचार है जो आज की पीढ़ी में नया नहीं है। खासकर भारत जैसे देश में, इसका एक नया अर्थ और महत्व है। हम भारत को तब तक एक प्रगतिशील राष्ट्र नहीं कह सकते हैं जब तक कि हमारे देश की महिलाएं पिछड़ समाज की छोटी सोच के अंदर दबी हैं। 

लैंगिक पक्षपात, छेड़-खानी, बलात्कार और सामाजिक बुराई का सबसे आम रूप आज भी कन्या भ्रूण हत्या है। बहानेबाजी और एक लड़के के लिए उम्मीद के लिए बालिका की हत्या वास्तव में एक पिछड़ी और अनैतिक प्रथा है।

उत्तराखंड वैष्णवी सुरक्षा योजना के बारे में

About Uttarakhand Vaishnavi Suraksha Yojana -: एनडीए सरकार के पूर्ण समर्थन में उत्तराखंड की सरकार ने इस संवेदनशील मुद्दे को ध्यान में रखा है। इसी के चलते वैष्णवी सुरक्षा योजना नाम से एक नया कार्यक्रम उत्तराखंड राज्य में शुरू किया गया है। 

यह योजना बेटी बचाओ – बेटी पढाओ अभियान (Beti Padhao – Beti Bachao) के बैनर तले शुरू की गई है। यह योजना पूरे राज्य में महिला और बाल विकास विभाग, उत्तराखंड द्वारा संचालित की जा रही है। इस योजना की सहायता के लिए विभाग ने टोल-फ्री नंबर शुरू किया है, जिस पर फ़ोन करके माता-पिता अपनी बेटी के जन्म के बारे में सूचित कर सकते हैं।

उत्तराखंड वैष्णवी सुरक्षा योजना के लिए आवेदन

Applying Procedure for Vaishnavi Suraksha Scheme Uttarakhand -: इस योजना के तहत, एक बालिका के जन्म वाले परिवारों को अपनी नवजात बेटी के साथ एक सेल्फी क्लिक करनी होगी यानी अपने फ़ोन से पूरे परिवार के साथ फोटो निकालनी होगी और उसे संबंधित अधिकारियों को व्हाट्सएप पर भेजना होगा। 

संदेश प्राप्त होने के 24 घंटे के भीतर, राज्य अधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि सम्बंधित अधिकारी या आंगनबाड़ी कार्यकर्ता माता और बच्चे की मदद करने के लिए परिवार के पास जाएँ और परिवार को वैष्णवी किट (Vaishnavi Kit) भी प्रदान करें, जिसमें उन दोनों के लिए आवश्यक सामग्री होगी। 

परिवार को मुख्यमंत्री और विभागीय मंत्री से भी बधाई संदेश भी मिलेंगे। इसे ऐसा समझें –

  • माता-पिता को नवजात बच्ची के साथ एक सेल्फी क्लिक करनी होगी। 
  • यह सेल्फी व्हाट्सएप नंबर पर माता या पिता के नंबर से विभाग तक भेजनी होगी। 
  • सेल्फी भेजने के 24 घंटे के भीतर, निकटतम सरकारी अस्पताल से एएनएम या आंगनवाड़ी कर्मचारी आपके घर आएँगे। 
  • ये अधिकारी लाभार्थी के साथ एक और सेल्फी क्लिक करेंगे और इसे नोडल अधिकारियों को भेजेंगे। 
  • इसके बाद आंगनवाड़ी कार्यकर्ता लाभार्थी के घर फिर से आएँगे तथा उनको वैष्णवी किट और कपड़े प्रदान करेंगे। 
  • किट के साथ साथ उनको मुख्यमंत्री तथा अन्य मंत्रिओं के बधाई सन्देश पत्र भी प्रदान किये जायेंगे। 

वैष्णवी योजना आधिकारिक व्हाट्सएप नंबर / टोल फ्री नंबर

Toll-Free Number & Official WhatsApp Number for Vaishnavi Yojana -: जैसा कि ऊपर उल्लेख किया गया है, परिवार के सदस्यों को नवजात बेटी के जन्म पर उसके साथ फ़ोटो लेनी होगी और इसे व्हाट्सएप के माध्यम से अधिकारियों को भेजना होगा। 

हमारे कई इच्छुक पाठक व्हाट्सएप नंबर के बारे में हमें मेल के माध्यम से पूछ रहे हैं, जहां उन्हें फोटो भेजनी है। हम आपको यह बताना चाहते हैं कि उत्तराखंड सरकार अभी तक व्हाट्सएप या हेल्पलाइन नंबर जारी नहीं किया है। 

सरकारी अधिकारियों के अनुसार विभाग द्वारा जल्द ही, नंबर जारी किया जाएगा। हम आपको अपनी वेबसाइट माध्यम से इसी लेख के माध्यम से अपडेट करेंगे।

वैष्णवी नवजात कन्या सुरक्षा योजना के लाभ / सुविधाएँ

Benefits and Services Provided under Uttarakhand Vaishnavi New Born Girl Suraksha Yojana -: यदि आप भी उत्तराखंड के निवासी हैं और इस योजना के बारे में जानने के इच्छुक हैं तो यहाँ नीचे हम आपको इस योजना के लाभ तथा इसके अंतर्गत प्रदान की जाने वाली सुविधाओं की जानकारी प्रदान कर रहे हैं।

इस योजना के तहत, लाभार्थी के परिवार को एक वैष्णवी कार्ड दिया जाएगा, जिसे विभिन्न अन्य मौजूदा योजनाओं से जोड़ा जाएगा।

  • इस परियोजना के तहत, माता-पिता को बीमा कवर भी मिलेगा।
  • सरकार परिवार के नए सदस्य के लिए नए कपड़े भी प्रदान करेगी।
  • इस योजना में यह भी शामिल है कि सरकार बालिकाओं की सुरक्षा करेगी। अधिसूचना के अनुसार, नवजात टीका-करण की समस्याओं से निपटने के लिए व्यवस्था की जाएगी।
  • यह निश्चित है कि इस पहल से राज्य सरकार का लक्ष्य राज्य में लिंगानुपात में सुधार करना है, इसलिए समाज में व्याप्त सामाजिक अन्याय में सुधार होगा। यदि बच्चे की डिलीवरी के दौरान कोई जटिलता दिखाई देती है और सरकारी अस्पतालों में मुफ्त में चिकित्सा सुविधा दी जाती है, तो तुरंत कार्रवाई की जाती है।

वैष्णवी कार्ड और वैष्णवी किट

Uttarakhand Vaishnavi Kit and Vaishnavi Card -: लाभार्थी परिवार को विभिन्न योजनाओं का लाभ प्रदान करने के लिए, वैष्णवी कार्ड जारी किए जाएंगे। इन कार्डों को आधार कार्ड से जोड़ा जाएगा। वैष्णवी कार्ड के माध्यम से परिवार को विभिन्न लाभ प्रदान किए जाएंगे। वैष्णवी किट में नवजात बच्चे के लिए महत्वपूर्ण सामान होंगे।

राज्य की यह नई योजना काफी सराहनीय है और यह कन्या भ्रूण हत्या के खिलाफ जागरूकता को बढ़ावा दे रही है। यह निश्चित है कि लड़कियाँ अब अपने माता-पिता पर बोझ नहीं हैं, बल्कि पहले की तुलना में अधिक सशक्त हैं। इस योजना की अधिक जानकारी के लिए कृपया स्वास्थय विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ। 

 हमारा फेसबुक पेज लाइक करें ✥

 हमारा ट्वीटर हेंडल फॉलो करें 

उम्मीद है आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी से जरूर लाभ मिलेगा। यदि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई हो तो कृपया अपने मित्रों तथा परिवारजनों के साथ जरूर शेयर करें।


यदि आपको इस जानकारी से सम्बंधित कोई जानकारी हेतु मदद चाहिए, तो आप हमसे सहायता ले सकते हैं। कृपया अपना प्रश्न नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें। हमारी टीम आपकी पूरी सहायता करेगी। यदि आपको किसी और राज्य या केंद्र सरकार की योजना की जानकारी चाहिए तो कृपया हमें कमेंट बॉक्स में हमसे पूछें।

इन्हें भी देखें —-:

You may also like...