[PDF सूची] प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना PMFBY पंजीकरण

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana List | Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Form PDF | Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Online Registration | Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana List | Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana in Hindi | Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Details | PMFBY | PMFBY Online Application | PMFBY Kharif | PMFBY Kharif List

नईप्रधानमंत्रीफसलबीमायोजना / Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana (PMFBY) वननेशनवनस्कीमथीमकेअनुरूपहै।यहपिछलीसभीयोजनाओंकीसर्वोत्तमविशेषताओंकोशामिलकरताहैऔरसाथही, पिछलीसभीकमियों / कमजोरियोंकोदूरकरदियागयाहै। PMFBY मौजूदादोयोजनाओंराष्ट्रीयकृषिबीमायोजना / National Agricultural Insurance Scheme केसाथसाथसंशोधित NAIS कीजगहलेगी।

प्रधानमंत्रीफसलबीमायोजनाकेउद्देश्य

Objectives of Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana – PMFBY:

·       प्राकृतिकआपदाओं, कीटोंऔरबीमारियोंकेपरिणामस्वरूपअधिसूचितफसलकीविफलताकीस्थितिमेंकिसानोंकोबीमाकवरेजऔरवित्तीयसहायताप्रदानकरना।

·       खेतीमेंअपनीनिरंतरतासुनिश्चितकरनेकेलिएकिसानोंकीआयकोस्थिरकरना।

·       किसानोंकोनवीनऔरआधुनिककृषिपद्धतियोंकोअपनानेकेलिएप्रोत्साहितकरना।

·       कृषिक्षेत्रमेंऋणकेप्रवाहकोसुनिश्चितकरना।

प्रधानमंत्रीफसलबीमायोजनाकीमुख्यविशेषताएं

Main Features of Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana – PMFBY:

·       सभीखरीफफसलोंकेलिएकिसानोंकोकेवल 2% काभुगतानकरनाहोगाऔरसभीरबीफसलोंकेलिए 1.5% प्रीमियमहोगा।वार्षिकवाणिज्यिकऔरबागवानीफसलोंकेमामलेमें, किसानोंद्वाराभुगतानकियाजानेवालाप्रीमियमकेवल 5% होगा।किसानोंद्वाराभुगतानकीजानेवालीप्रीमियमदरेंबहुतकमहैंऔरप्राकृतिकआपदाओंकेकारणकिसानोंकोफसलक्षतिकेलिएपूरीबीमाराशिप्रदानकरनेकेलिएशेषराशिकाभुगतानसरकारद्वाराकियाजाएगा।

·       सरकारीसब्सिडीपरकोईऊपरीसीमानहींहै।अगरबैलेंसप्रीमियम 90% है, तोभीयहसरकारद्वारावहनकियाजाएगा।

·       इससेपहले, प्रीमियमदरकोकमकरनेकाप्रावधानथा, जिसकेपरिणामस्वरूपकिसानोंकोकमभुगतानकाभुगतानकियाजाताथा।यहकैपिंगप्रीमियमसब्सिडीपरसरकारकीसीमाकोसीमितकरनेकेलिएकियागयाथा।इसकैपिंगकोअबहटादियागयाहैऔरकिसानोंकोबिनाकिसीकटौतीकेपूर्णबीमाराशिकेखिलाफदावामिलेगा।

·       प्रौद्योगिकीकेउपयोगकोकाफीहदतकप्रोत्साहितकियाजाएगा।किसानोंकोदावाभुगतानमेंदेरीकोकमकरनेकेलिएफसलकाटनेकेडेटाकोप्राप्तकरनेऔरअपलोडकरनेकेलिएस्मार्टफोनकाउपयोगकियाजाएगा।फसलकाटनेकेप्रयोगोंकीसंख्याकोकमकरनेकेलिएरिमोटसेंसिंगकाउपयोगकियाजाएगा।

·       प्रधानमंत्रीफसलबीमायोजना NAIS / MNAIS कीएकप्रतिस्थापनयोजनाहै, योजनाकेकार्यान्वयनमेंशामिलसभीसेवाओंकीसेवाकरदेयतासेछूटहोगी।अनुमानहैकिनईयोजनाबीमाप्रीमियममेंकिसानोंकेलिएलगभग 75-80 प्रतिशतअनुदानसुनिश्चितकरेगी। 

प्रधानमंत्रीफसलबीमायोजनाकेअंतर्गतकवरकियेगएकिसान

Farmers Covered under Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana – PMFBY:

मौसमकेदौरानएकअधिसूचितक्षेत्रमेंअधिसूचितफसलउगानेवालेसभीकिसानजिनकीफसलमेंबीमायोग्यहै, पात्रहैं। 

अनिवार्यकवरेज:

योजनाकेतहतनामांकन, अधिसूचितक्षेत्रमेंअधिसूचितफसलकीखेतीपरअयोग्यब्याजकेकब्जेकेअधीन, किसानोंकीनिम्नलिखितश्रेणियोंकेलिएअनिवार्यहोगा:

·       अधिसूचितक्षेत्रकेकिसानजिनकेपासफसलीऋणखाता / केसीसीखाता (ऋणधारीकिसानकहाजाताहै) जिनकेपासफसलकेमौसमकेदौरानअधिसूचितफसलकेलिएऋणसीमास्वीकृत / नवीनीकृतहै।तथा

·       ऐसेअन्यकिसानजिन्हेंसरकारसमयसमयपरशामिलकरनेकानिर्णयलेसकतीहै।

स्वैच्छिककवरेज:

स्वैच्छिककवरेजउनसभीकिसानोंद्वाराप्राप्तकीजासकतीहै, जिन्हेंक्रॉपकेसीसी / फसलऋणखाताधारकशामिलनहींहैं, जिनकीक्रेडिटसीमाकानवीनीकरणनहींकियागयाहै।

प्रधानमंत्रीफसलबीमायोजनाकेतहतकवरकिएगएजोखिम

Risks Covered Under Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana – PMFBY:

·       यील्डलॉस (खड़ीफसलों, एकअधिसूचितक्षेत्रकेआधारपर)प्राकृतिकआगऔरबिजली, तूफान, तूफान, चक्रवात, तूफान, टेंपेस्ट, तूफानजैसेगैररोकेजानेवालेजोखिमोंकेकारणउपजकेनुकसानकोकवरकरनेकेलिएव्यापकजोखिमबीमाप्रदानकियाजाताहै।बाढ़, औरभूस्खलन, सूखा, कीट / रोगकेकारणजोखिमभीकवरकियाजाएगा।

·       ऐसेमामलोंमेंजहांकिसीअधिसूचितक्षेत्रकेबहुसंख्यकबीमितकिसानोंकीबुवाई / रोपाईकरनेकाइरादाऔरखर्चकेलिएखर्च, प्रतिकूलमौसमकेकारणबीमितफसलकोबोने / बोनेसेरोकाजाताहै, क्षतिपूर्तिकेलिएपात्रहोंगे।बीमितराशिकाअधिकतम 25 प्रतिशतप्रदानकियाजायेगा।

·       कटाईकेबादकेनुकसानमें, कवरेजउनफसलोंकेलिएकटाईसे 14 दिनोंकीअधिकतमअवधितकउपलब्धहोगी, जिन्हेंखेतमेंसूखनेकेलिएकाटकरऔरफैलाकररखाजाताहै।

·       कुछस्थानीयसमस्याओंकेलिए, ओलावृष्टि, भूस्खलन, औरअधिसूचितक्षेत्रमेंअलगअलगखेतोंकोप्रभावितकरनेवालेनुकसानजैसेपहचानकिएगएजोखिमोंकीघटनासेहोनेवालीहानि / क्षतिभीकवरकीजाएगी।

प्रधानमंत्रीफसलबीमायोजनाकेतहतबीमाकीइकाई

Unit of Insurance Under Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana – PMFBY:

इसयोजनाकोएकएरियाएप्रोचआधारपरलागूकियाजाएगा, यानी, प्रत्येकअधिसूचितफसलकेलिएपरिभाषितक्षेत्रोंकेलिएइसधारणाकेसाथकिबीमाकंपनीकीयूनिटमेंसभीबीमितकिसानोंकोएकफसलकेलिएअधिसूचितक्षेत्रकेरूपमेंपरिभाषितकियाजाए।समानजोखिमवालेजोखिमोंकासामनाकरना, काफीहदतकप्रतिहेक्टेयरउत्पादनकीसमानलागत, प्रतिहेक्टेयरतुलनीयकृषिआयअर्जितकरनाऔरअधिसूचितक्षेत्रमेंबीमितजोखिमकेसंचालनकेकारणफसलकेनुकसानकीसमानसीमाकाअनुभवकरना।

परिभाषितक्षेत्र (यानी, बीमाकाइकाईक्षेत्र) ग्राम / ग्रामपंचायतस्तरहै, जिसकानामइनक्षेत्रोंमेंप्रमुखफसलोंकेलिएआताहैऔरअन्यफसलोंकेलिएयहग्राम / ग्रामपंचायतकेस्तरसेऊपरकेआकारकीइकाईहोसकतीहै।समयकेकारण, इंश्योरेंसकीयूनिटअधिसूचितफसलकेलिएहोमोजेनसरिस्कप्रोफाइलवालेएकजियोफ़ाइंड / जियोमैप्डक्षेत्रहोसकतीहै।

परिभाषितआपदाओंकेकारणस्थानीयकृतआपदाओंऔरबादमेंफसलकेनुकसानकेजोखिमकेलिए, नुकसानकेआकलनकेलिएबीमाकीइकाईव्यक्तिगतकिसानकेप्रभावितबीमितक्षेत्रहोगी।

गतिविधि

खरीफ

रबी

ऋणदाताकिसानोंकेलिएऋणअवधि (ऋणस्वीकृत) अनिवार्यआधारपरकवरकीगई।

अप्रैलसेजुलाई

अक्टूबरसेदिसंबर

किसानों (ऋणऔरगैरऋणदाता) केप्रस्तावोंकीप्राप्तिकीकटऑफतिथि।

31 जुलाई

31 दिसंबर

उपजडेटाप्राप्तकरनेकेलिएकटऑफतारीख

अंतिमफसलसेएकमहीनेकेभीतर

अंतिमफसलसेएकमहीनेकेभीतर

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना हेतु ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

How to Apply for Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana – PMFBY:

किसानफसलबीमाकेलिएऑनलाइनआवेदन https://pmfby.gov.in परकरसकतेहैं।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana PMFBY Apply Online

देयबीमाप्रीमियमकीगणनाकरनेकेलिएनीचेदिएहुएलिंकपर Click करें:

यहांक्लिककरें

प्रधानमंत्रीफसलबीमायोजनाकेलिएसंशोधितपरिचालनदिशानिर्देश

Revised Operational Guidelines for Pradhan Mantri Fasal Bima Yojna (PMFBY):

सरकारने 1 अक्टूबरसेलागूकीजारहीप्रधानमंत्रीफासलबीमायोजना (पीएमएफबीवाई) केलिएपरिचालनदिशानिर्देशोंकोसंशोधितकियाहै।

पीएमएफबीवाईकेपरिचालनदिशानिर्देशोंमेंनएप्रावधान:

·       राज्यों, बीमा कंपनियों (आईसीएस) और बैंकों के लिए जुर्माना / प्रोत्साहन का प्रावधान यानि बीमा कंपनी द्वारा किसानों को भुगतान कटौती तिथि में दो महीने से अधिक समय तक निपटान के दावों में देरी के लिए 12% ब्याज दर का भुगतान करना होगा। इसी प्रकार, राज्य सरकार को बीमा कंपनियों द्वारा निर्धारित कट ऑफ डेट / अपेक्षित जमा करने के तीन महीने से अधिक की राज्य हिस्सेदारी के विमोचन में देरी के लिए 12% ब्याज दर का भुगतान करना है।

·       आईसीएस के प्रदर्शन मूल्यांकन और उनके डी-एम्पैनमेंट के लिए विस्तृत एसओपी।

·       पीएमएफबीवाई के दायरे में बारहमासी बागवानी फसलों (पायलट आधार पर) को शामिल करना। (खाद्य और तिलहन फसलों और अन्नुल वाणिज्यिक और बागवानी फसलों के पीएमएफबीवाई कवरेज के ओजी)

·       कटाई के बाद के नुकसान में ओलावृष्टि को शामिल किया गया, इसके अलावा बेमौसम और चक्रवाती बारिश भी शामिल हैं।

·       ओलावृष्टि, भूस्खलन और बाढ़ के अलावा स्थानीय आपदाओं में बादल फटने और प्राकृतिक आग को भी कवर किया गया है।

·       संबंधित राज्य सरकार द्वारा वहन किए जाने वाले इस प्रावधान की अतिरिक्त वित्तीय देनदारियों के साथ पायलट आधार पर जंगली जानवरों के हमले के कारण फसल के नुकसान के लिए कवरेज में जोड़ेंगे।

·       अधार नंबर की अनिवार्य कैप्चरिंग – इससे डी-डुप्लीकेशन में मदद मिलेगी।

·       विशेष रूप से गैर-ऋणी किसानों (10% वृद्धिशील) को ICs के कवरेज के लिए लक्ष्य में रखा गया है।

·       मेजर क्रॉप्स की परिभाषा, बेमौसम बारिश, और इनडेशन स्पष्टता और उचित कवरेज के लिए शामिल है।

·       प्रीमियम रिलीज की प्रक्रिया का युक्तिकरण: पिछले वर्ष के इसी सीजन की सब्सिडी के कुल शेयर का 80% के आधार पर अपफ्रंट प्रीमियम सब्सिडी जारी करना, सीज़न की शुरुआत में भारत सरकार / राज्य सब्सिडी के रूप में- कंपनियों को कोई अनुमान प्रदान करने की आवश्यकता नहीं है अग्रिम सब्सिडी। दूसरी किस्त – पोर्टल पर अंतिम व्यापारिक आंकड़ों के आधार पर संपूर्ण कवरेज डेटा के मेल के बाद दावों के निपटान और अंतिम किस्त के लिए पोर्टल पर अनुमोदित व्यावसायिक आंकड़ों के आधार पर शेष प्रीमियम।

·       राज्यों ने एल 1 गणना की गणना के लिए और अधिसूचना के लिए उच्च प्रीमियम वाली फसलों को शामिल करने के लिए निर्णय लेने की अनुमति दी।

·       टीआई की गणना के लिए कार्यप्रणाली का युक्तिकरण

·       दावा राशि की गणना के लिए 7 में से सर्वश्रेष्ठ 5 का औसत चलना।

·       अंतिम सब्सिडी की दूसरी किस्त की प्रतीक्षा किए बिना दावों का निपटान (मिड्सडेन प्रतिकूल / स्थानीय दावों के लिए बुवाई / पर रोक)।

·       अनंतिम व्यापार डेटा पर प्रदान की गई सब्सिडी के आधार पर यील्ड आधारित दावों का निपटान किया जाता है।

·       प्रशासनिक व्यय के लिए अलग बजट आवंटन (योजना के बजट का कम से कम 2%)।

·       व्यापक गतिविधि वार मौसमी अनुशासन जिसमें सभी प्रमुख गतिविधियों के लिए परिभाषित समयरेखा है, जो कवरेज की प्रक्रिया, उपज डेटा प्रस्तुत करने और दावों के शीघ्र निपटान के लिए है।

·       नामांकन के लिए कटऑफ की तारीख तय करने के लिए जिलेवार फसल वार कैलेंडर (प्रमुख फसलों के लिए)।

·       बीमा के लिए फसल का नाम बदलने के लिए बढ़ा हुआ समय – कटऑफ तारीख से 1 महीने पहले के प्रावधान के बजाय नामांकन के लिए कटऑफ तारीख से 2 दिन पहले तक।

·       व्यक्तिगत दावों को अंतरंग करने के लिए बीमित किसान का अधिक समय – 72 घंटे (48 घंटे के बजाय) किसी भी हितधारकों के माध्यम से और सीधे पोर्टल पर।

·       रोकी गई बुवाई की घोषणा के लिए समयरेखा

·       उपज डेटा / फसल हानि के बारे में विवाद निवारण के लिए विस्तृत एसओपी।

·       दावों के लिए विस्तृत एसओपी अनुमान उत्पादों पर जोड़ें यानी मिडसनसन प्रतिकूलता, रोकी गई / विफल बुवाई, कटाई के बाद का नुकसान और स्थानीयकृत दावे

·       क्षेत्र सुधार कारक के लिए विस्तृत एसओपी

·       मल्टी पिकिंग फसलों के लिए विस्तृत एसओपी।

·       प्रचार और जागरूकता के लिए विस्तृत योजना-प्रति सीजन में प्रति कंपनी सकल प्रीमियम का 0.5% व्यय

·       क्लस्टरिंग / जोखिम वर्गीकरण में आरएसटी का उपयोग।

·       राज्यों, आईसी और बैंकों के लिए दंड / प्रोत्साहन • आईसीएस का प्रदर्शन मूल्यांकन और उनका डी-एंबेलमेंट।

प्रधानमंत्रीफसलबीमायोजनाकीपिछलीयोजनाओंसेतुलना

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana – PMFBY Comparison with Previous Schemes:

फ़ीचर

NAIS [1999]

MNAIS [2010]

प्रधानमंत्रीफसलबीमायोजना

प्रीमियम दर

कम

उच्च

एनएआईएस से भी कम (किसान के 5 गुना अंशदान के लिए सरकार)

एक सीज़न – एक प्रीमियम

हाँ

नहीं

हाँ

बीमा राशि कवर

पूर्ण

आधा

पूर्ण

खाता भुगतान पर

नहीं

हाँ

हाँ

स्थानीयकृत जोखिम कवरेज

नहीं

ओलावृष्टि, लैंड स्लाइड

ओलावृष्टि, लैंड स्लाइड, सैलाब

पोस्ट हार्वेस्ट लॉस कवरेज

नहीं

तटीय क्षेत्र – चक्रवाती वर्षा के लिए

ऑल इंडिया – चक्रवाती + बेमौसम बारिश के लिए

बुवाई कवरेज

नहीं

हाँ

हाँ

प्रौद्योगिकी का उपयोग (दावों के त्वरित निपटान के लिए)

नहीं

नहीं

अनिवार्य

जागरूकता

नहीं

नहीं

हां (50% तक दोहरे कवरेज का लक्ष्य)

योजनाकेबारेमेंपूरीजानकारीकेलिएकृपयानीचेदिएहुएलिंकपरक्लिककरें।

You may also like...