[जीविका दीदी] बिहार दीदी की रसोई योजना 2021 मरीजों हेतु भोजन

दीदी की रसोई बिहार | Didi Ki Rasoi Yojana Kya Hai | What is Didi Ki Rasoi Yojana in Hindi | Didi Ki Rasoi Yojana PDF | Didi Ki Rasoi DKR | Didi ki Canteen Hospital List | Didi ki Canteen Hindi PDF | Jeevika Didi Registration | Jeevika Didi Panjikaran | जीविका दीदी कैसे बनें

बिहार सरकार सरकार द्वारा संचालित अस्पतालों में इलाज करवा रहे मरीजों के लिए दीदी की रसोई योजना / Didi Ki Rasoi Yojana 2021 शुरू करने जा रही है। 12 जनवरी 2021 को राज्य मंत्रिमंडल ने दीदी की रसोई योजना को चलाने के लिए स्वास्थ्य विभाग के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। यह योजना राज्य भर के अस्पतालों में रोगियों को हाइजीनिक यानी शुद्ध और पौष्टिक भोजन देने के लिए चलाई जाएगी। इस लेख में, हम आपको दीदी की रसोई योजना के विवरण के बारे में बताएंगे।

यह भी पढ़ें => बिहार राशन कार्ड नई PDF जिलावार लिस्ट डाउनलोड करें व नाम खोजें

बिहार दीदी की रसोई योजना के बारे में

Bihar Didi Ki Rasoi Yojana

What is Bihar Didi Ki Rasoi Yojana -: सीएम नीतीश कुमार की अध्यक्षता में बिहार कैबिनेट की बैठक ने सभी जिलों और उप-मंडलों के अस्पतालों में दीदी की रसोई योजना शुरू करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।




इन रसोई में, स्वयं सहायता समूह (SHG) से जुड़ी महिलाओं द्वारा भोजन पकाया जाएगा। दीदी की रसोई योजना राज्य भर में जीविका दीदियों द्वारा चलाई जाएगी।

दीदी की रसोई योजना विवरण

पोर्टल का नाम दीदी की रसोई योजना
विभाग का नाम स्वस्थ्य विभाग
राज्य का नाम बिहार
पोर्टल लाभार्थी राज्य के मरीज
लाभ का प्रकार मरीजों हेतु मुफ्त खाना
उद्देश्य / मकसद मरीजों की देखभाल
पंजीकरण विधि कुछ नहीं
पंजीकरण शुल्क कुछ नहीं
अंतिम तिथि कुछ नहीं
विभाग वेबसाइट अपडेट जल्द आएगा
हेल्पलाइन नंबर कुछ नहीं

यह भी पढ़ें => RTPS लोक सेवाओं का अधिकार बिहार प्रमाण पत्र आवेदन व सत्यापन

दीदी की रसोई योजना के लिए जीविका दीदी

Didi Ki Rasoi Yojana for Jeevika Didi -: दीदी की रसोई योजना शुरू में वैशाली जिले में एक प्रयोगात्मक आधार पर शुरू की गई थी। बाद में बिहार ग्रामीण आजीविका संवर्धन सोसाइटी (Bihar Rural Livelihood Promotion Society / BRLPS) के तहत गया, सहरसा, पूर्णिया, बक्सर, शेहर और शेखपुरा जिलों में इस सुविधा का विस्तार किया गया। 

10.2 लाख महिला स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी लगभग 1.20 करोड़ “जीविका दीदी / Jeevika Didi” हैं। बिहार प्रदेश के सीएम नीतीश कुमार ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि परियोजना का विस्तार दूसरे जिलों में भी किया जाए।

यह भी पढ़ें => [Apply] बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना आवेदन रु 6000 लिस्ट 2021

पटना में डीजल वाले ऑटो रिक्शा

Diesel Auto Rickshaws in Patna -: बिहार मंत्रिमंडल समिति ने राज्य की राजधानी के अंतर्गत आने वाले क्षेत्रों में डीजल से चलने वाले ऑटो-रिक्शा को अनुमति देने के परिवहन विभाग के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। वित्त वर्ष 2021-22 के लिए दानापुर, खगल और फुलवारीशरीफ नगर परिषद में डीजल ऑटो भी चलेंगे।

इससे पहले, राज्य परिवहन विभाग द्वारा 31 जनवरी 2021 से पीएमसी क्षेत्रों के तहत डीजल से चलने वाले ऑटो पर प्रतिबंध लगाने के आदेश जारी किए गए थे ताकि वायु गुणवत्ता में सुधार और शहरी क्षेत्रों में प्रदूषण को कम किया जा सके।




इसी तरह, 31 मार्च 2021 से दानापुर, खगौल और फुलवारीशरीफ नगर परिषद में ऑटो पर प्रतिबंध लगाया जाना था। परिवहन विभाग के प्रस्ताव पर कैबिनेट की मुहर के साथ, डीजल से चलने वाले ऑटो 31 मार्च, 2022 तक चलेंगे।

दोनों योजनाओं के लिए प्रदेश सरकार द्वारा अभी कोई विज्ञप्ति जारी नहीं की गई है। हालांकि बिहार सरकार द्वारा आधिकारिक विज्ञप्ति को पटना विश्वविद्यालय की ऑफिसियल वेबसाइट पर भी देखा जा सकता है। विज्ञप्ति पढ़ने हेतु यहाँ क्लिक करें

यह भी पढ़ें => खेत प्लाट जमीन का भू नक्शा भूलेख अपना खाता जिला वेबसाइट बिहार

 हमारा फेसबुक पेज लाइक करें ✥

उम्मीद है आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी से जरूर लाभ मिलेगा। यदि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई हो तो कृपया अपने मित्रों तथा परिवारजनों के साथ जरूर शेयर करें।

यदि आपको इस जानकारी से सम्बंधित कोई जानकारी हेतु मदद चाहिए, तो आप हमसे सहायता ले सकते हैं। कृपया अपना प्रश्न नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें। हमारी टीम आपकी पूरी सहायता करेगी। यदि आपको किसी और राज्य या केंद्र सरकार की योजना की जानकारी चाहिए तो कृपया हमें कमेंट बॉक्स में हमसे पूछें।

You may also like...