PM-WANI प्रधानमंत्री वाणी योजना 2021 फ्री Wi-Fi रजिस्ट्रेशन

PM-WANI Yojana Apply Online | पीएम फ्री वाई-फाई वाणी योजना | प्रधानमंत्री फ्री वाई-फाई योजना | PM Free Wi-Fi Yojana Registration | PM WI-FI Scheme Online Apply | Free Wi-Fi Registration | Wi-Fi Access Network Interface Scheme | PM Wani योजना

पीएम वाणी योजना / PM WANI Yojana 2021 को भारत में केंद्र सरकार द्वारा अनुमोदित किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली कैबिनेट समिति ने पीएम वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस / PM Wi-Fi Access Network Interface (WANI) को मंजूरी दे दी है। 

पीएम वाणी योजना के लिए कोई लाइसेंस, शुल्क या पंजीकरण नहीं होगा। इस लेख में, हम आपको पीएम-वाणी योजना के संपूर्ण विवरण के बारे में बताएंगे। पीएम वानी योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://saralsanchar.gov.in/ है।

भारत प्रधानमंत्री वाणी योजना 2021

PM WANI Yojana

India Pradhan Mantri Wani Scheme 2021 -: पीएम वाणी योजना को लागू करने का प्रस्ताव देश में सार्वजनिक वाई-फाई नेटवर्क के विकास को बढ़ावा देगा। इस योजना में, सरकार केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा तय की गई सार्वजनिक वाई-फाई सेवा प्रदान करेगा। 

पीएम वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस भारत में बड़े पैमाने पर वाई-फाई नेटवर्क प्रदान करेगा। इस योजना के साथ, देश भर में सार्वजनिक डेटा केंद्र खोले जाएंगे। पीएम वानी स्कीम 2020 के लिए कोई लाइसेंस, शुल्क या पंजीकरण नहीं होगा। 

पब्लिक वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस को पीएम-वाणी के रूप में जाना जाएगा। प्रस्ताव देश में सार्वजनिक वाई-फाई नेटवर्क के विकास को बढ़ावा देगा।

यह भी पढ़ें => डुप्लीकेट पैन कार्ड हेतु ऑनलाइन आवेदन व आवश्यक दस्तावेज

पीएम वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस योजना के लिए कैबिनेट की मंजूरी

Approval from Cabinet for PM Wi-Fi Access Network Interface Scheme -: केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पीएम वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस योजना (PM Wi-Fi Access Network Interface Scheme) के लिए अपनी मंजूरी दे दी है। व्यवसायी भारती एयरटेल, रिलायंस जियो या ऐसे किसी भी इंटरनेट सेवा प्रदाता (आईएसपी) से सेवाएं ले सकते हैं। 

व्यवसाय अपने भौतिक स्थान का उपयोग वाई-फाई किसी को भी प्रदान करने के लिए कर सकता है जो पास में होता है। आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पब्लिक डेटा ऑफिस एग्रीगेटर्स (Public Data Office Aggregators – PDOAs) द्वारा सार्वजनिक वाई-फाई नेटवर्क सेटअप करने के लिए DoT के प्रस्ताव को अपनी मंजूरी दे दी है।

पीडीओएए देश की लंबाई और चौड़ाई में फैले सार्वजनिक डेटा कार्यालयों (पीडीओ) के माध्यम से सार्वजनिक वाई-फाई सेवा प्रदान करेगा। इससे देश में सार्वजनिक वाई-फाई नेटवर्क के माध्यम से ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवाओं के प्रसार में तेजी आएगी। 


सार्वजनिक वाई-फाई के प्रसार से रोजगार के अवसर पैदा होंगे। इसके अलावा, यह छोटे और मध्यम उद्यमियों के हाथों में डिस्पोजेबल आय को भी बढ़ाएगा और देश की जीडीपी को बढ़ावा देगा।

यह भी पढ़ें => [पंजीकरण] आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना रजिस्ट्रेशन 2021-22

प्रधानमंत्री वाणी योजना की मुख्य विशेषताएं

Main Key Features of PM WANI Yojana -: सार्वजनिक वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफ़ेस को PM-WANI Scheme के रूप में जाना जाएगा। पीएम वाणी इको-सिस्टम विभिन्न सेवा प्रदाताओं द्वारा संचालित किया जाएगा जैसा कि नीचे वर्णित है: –

१ = पब्लिक डेटा ऑफिस (पीडीओ): यह केवल WANI अनुरूप वाई-फाई एक्सेस पॉइंट्स की स्थापना, रखरखाव और संचालन करेगा और ब्रॉडबैंड सेवाओं को ग्राहकों तक पहुंचाएगा।

२ = पब्लिक डेटा ऑफिस एग्रीगेटर (पीडीओए): यह पीडीओ का एक एग्रीगेटर होगा और प्राधिकरण और लेखा से संबंधित कार्य करेगा।

३ = ऐप प्रदाता: यह उपयोगकर्ताओं को पंजीकृत करने और पास के क्षेत्र में WANI अनुरूप वाई-फाई हॉटस्पॉट की खोज करने के लिए एक ऐप विकसित करेगा और इंटरनेट सेवा तक पहुँचने के लिए ऐप के भीतर ही प्रदर्शित करेगा।

४ = केंद्रीय रजिस्ट्री: यह ऐप प्रदाता, पीडीओए और पीडीओ के विवरण को बनाए रखेगा। आरंभ करने के लिए, सेंट्रल रजिस्ट्री को C-DoT द्वारा बनाए रखा जाएगा।

यह भी पढ़ें => केंद्र सरकार योजनाएं: हेल्पलाइन नंबर (टोल फ्री) ईमेल व वेबसाइट

सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर केबल द्वारा अनुमोदित मंत्रिमंडल

Approval for Submarine Optical Fiber Cable by Cabinet -: केंद्रीय मंत्रिमंडल समिति ने मुख्य भूमि (कोच्चि) और लक्षद्वीप द्वीप समूह के बीच सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर केबल कनेक्टिविटी के प्रावधान को मंजूरी दी है। 

केंद्रीय सरकार ने उच्च गति वाले ब्रॉडबैंड इंटरनेट कनेक्टिविटी प्रदान करने के लिए 11 लक्षद्वीप द्वीप समूह के लिए एक ऑप्टिकल ऑप्टिकल केबल बिछाने को मंजूरी दी है।

सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर केबल्स की यह स्थापना हाल ही में अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में रखी गई एक की तर्ज पर होगी। कैबिनेट समिति ने 1 करोड़ डेटा केंद्र स्थापित करने को भी मंजूरी दी है।

मंत्रिमंडल ने चालू वित्त वर्ष के लिए 1,584 करोड़ रुपये के व्यय से आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना को मंजूरी दी है। इसके अलावा, सरकार ने पूरी योजना अवधि यानी 2020 से 2023 तक के लिए 22,810 करोड़ रुपये के खर्च पर एबी स्कीम को मंजूरी दे दी है। 

इस आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना से लगभग 58.5 लाख कर्मचारियों को फायदा होगा। प्रधानमंत्री वाणी योजना 2021 या पीएम वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस योजना 2021 की अधिक जानकारी के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें। 


यह भी पढ़ें => [BharatEMarket] भारत ई-मार्किट विक्रेता / सेलर रजिस्ट्रेशन

 हमारा फेसबुक पेज लाइक करें ✥

उम्मीद है आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी से जरूर लाभ मिलेगा। यदि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई हो तो कृपया अपने मित्रों तथा परिवारजनों के साथ जरूर शेयर करें।

यदि आपको इस जानकारी से सम्बंधित कोई जानकारी हेतु मदद चाहिए, तो आप हमसे सहायता ले सकते हैं। कृपया अपना प्रश्न नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें। हमारी टीम आपकी पूरी सहायता करेगी। यदि आपको किसी और राज्य या केंद्र सरकार की योजना की जानकारी चाहिए तो कृपया हमें कमेंट बॉक्स में हमसे पूछें।

You may also like...