Home Top Ad

प्रधानमंत्री कुसुम योजना: फ्री सोलर पम्प हेतु सब्सिडी आवेदन प्रक्रिया हिंदी में

Share:
Kusum Yojana Registration | Kusum Yojana Online | Kusum Yojana Online Application | Kusum Yojana Online Registration | Kusum Yojana Rajasthan | Kusum Yojana Online Registration 2020 | Kusum Yojana 2020 | Kusum Yojana Official Website

kusum yojana 20202022 तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की किसान आय दोगुनी करने के सपने को पूरा करने के लिए, केंद्र सरकार देश के किसानों को स्थायी लाभप्रदता प्रदान करने के लिए कई योजनाएं शुरू कर रही है। किसानों की लाभप्रदता बनाए रखना भारतीय कृषि के वर्तमान परिदृश्य में प्रमुख चुनौतियों में से एक है। इस अंतर को पाटने के लिए, सरकार ने कई पहल शुरू की हैं, जिनमें से कुछ ठीक से बाहर हैं और अन्य नहीं हैं। इस श्रृंखला में, कुसुम योजना (किसान ऊर्जा सुरक्षा विकास उठान महाभियान) ने किसानों को उनकी जमीन पर पंप सेट और नलकूप स्थापित करने के लिए 60% अनुदान प्रदान करके किसानों की सिंचाई और पानी की समस्याओं को पूरा करने का वादा किया है।




इसके अलावा, यह सोलर पंप योजना, जिसे पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने केंद्रीय बजट 2018-19 के दौरान घोषित किया था। देश भर में सिंचाई के लिए इस्तेमाल होने वाले डीजल / इलेक्ट्रिक पंपों को सौर ऊर्जा से चलने वाले पम्प सेट के लिए किसानों को कुल खर्च का केवल 10% खर्च करना होगा।

क्या है पीएम कुसुम योजना?

What is Kusum Yojana or Kisan Urja Suraksha evam Utthan Mahaabhiyan Yojana -: भारत के नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा विभाग ने अपने खेतों में सौर सिंचाई पंप (एसआईपी) वाले किसानों को सब्सिडी देने की योजना शुरू की है। यह योजना किसानों को अपने ट्यूबवेल के लिए बिजली पैदा करने में मदद करेगी। इस योजना का उद्देश्य 2022 तक सौर और अन्य नवीकरणीय क्षमता को 25,750 मेगावाट की कुल कार्यान्वयन एजेंसियों को सेवा शुल्क सहित 34,422 करोड़ की केंद्रीय वित्तीय सहायता के साथ जोड़ना है। सौर पंप न केवल खेतों की सिंचाई करने में मदद करेंगे, बल्कि सुरक्षित ऊर्जा भी पैदा करेंगे। किसान बिजली आपूर्ति कंपनियों को अतिरिक्त बिजली भी बेच सकते हैं। यह उन्हें अपने लिए अतिरिक्त आय उत्पन्न करने में मदद करेगा।

कुसुम योजना की सब्सिडी संरचना

Structure of Subsidy under Kusum Yojana or Kisan Urja Suraksha evam Utthan Mahaabhiyan Yojana -: योजना के अनुसार, किसान को नए और बेहतर सौर ऊर्जा से चलने वाले पंपों पर सब्सिडी मिलेगी। किसानों को एक सोलर पंप स्थापित करने के लिए कुल खर्च का केवल 10% खर्च करना होगा और 60% लागत सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी और शेष 30% का श्रेय बैंक द्वारा क्रेडिट के रूप में लिया जाएगा।
  • केंद्र सरकार - सब्सिडी के रूप में कुल लागत का 60%
  • बैंक द्वारा - किसानों को ऋण के रूप में कुल लागत का 30%
  • किसान द्वारा - कुल लागत का 10%




    कुसुम योजना के महत्वपूर्ण बिंदु

    Main Key Points of Kusum Yojana or Kisan Urja Suraksha evam Utthan Mahaabhiyan Yojana -: केंद्र सरकार 2022 तक लगभग 3 कोर किसानों को सोलर पंप की सुविधा देने के लिए कुल 1.48 लाख कोर की बड़ी राशि खर्च करेगी। सरकार 60% अनुदान देगी, जबकि बैंक किसानों के खातों में 30% राशि जमा करेगा। किसानों को केवल 10% राशि स्वयं खर्च करनी होगी।

    कुसुम योजना के लिए पात्रता

    Eligibility to Apply for Kusum Yojana or Kisan Urja Suraksha evam Utthan Mahaabhiyan Yojana -: इच्छुक किसानों / आवेदकों को कुसुम योजना (किसान ऊर्जा सुरक्षा विकास उठान महाभियान योजना) आवेदन करने व पम्प सेट प्राप्त करने हेतु निम्नलिखित पात्रता मापदंडों को पूरा करना होगा।
    • आवेदक किसान होना चाहिए और उसके पास आधार कार्ड होना चाहिए।
    • किसानों के पास वैध बैंक खाता होना चाहिए।
    • आवेदक के पास अपनी जमीन होनी चाहिए जहाँ पम्प सेट स्थापित किया जा सके।




      कुसुम योजना के लिए आवेदन कैसे करें

      How to Apply Online for Kusum Yojana or Kisan Urja Suraksha evam Utthan Mahaabhiyan Yojana -: कुसुम योजना की ऑनलाइन प्रक्रिया आखिरकार जारी कर दी गई है। किसान आसानी से नीचे निर्दिष्ट प्रक्रिया के माध्यम से कुसुम योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।
      • पहला चरण: सबसे पहले, किसानों को कुसुम योजना की आधिकारिक साइट पर जाना होगा। https://kusum.online/register/ (वेबसाइट अभी रखरखाव के अधीन है और यह जल्द ही खुलेगी, हम आपको यहाँ सूचना दे देंगे।)
      • दूसरा चरण: अब, आप पोर्टल के होमपेज पर संदर्भ संख्या यानी रेफ़्रेन्स नंबर के साथ लॉग इन कर सकते हैं।
      • तीसरा चरण: आपके द्वारा पोर्टल पर लॉग इन करने के बाद, आप कुसुम सौर पंप लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन पत्र भर सकते हैं।
      • चौथा चरण: किसान को होम पेज पर दिखाई दे रहे “अप्लाई” बटन पर क्लिक करना होगा।
      • पांचवा चरण: आवेदन बटन पर क्लिक करने पर, किसान को पंजीकरण पृष्ठ पर ले जाया जाएगा।
      • छठवां चरण: कुसुम योजना के लिए आवेदन पत्र स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा। 
      • सातवां चरण: अब आपको आवेदन पत्र में सभी मांगे गए विवरणों को दर्ज करना होगा।
      • आठवां चरण: किसानों के नाम, मोबाइल नंबर, ई-मेल पता और अन्य जानकारी जैसे विवरण दर्ज करें।
      • नौवां चरण: सभी विवरणों को पूरा करने के बाद, किसान को पंजीकरण प्रक्रिया को पूरा करने के लिए सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।
      • दसवां चरण: आवेदन पत्र जमा करने पर, किसान को “सफलतापूर्वक पंजीकृत” बताते हुए संदेश प्राप्त होगा।




        ऊर्जा मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट यहाँ उपलब्ध है


        आपका समर्थन

        उम्मीद है आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी से जरूर लाभ मिलेगा। यदि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई हो तो कृपया अपने मित्रों तथा परिवारजनों के साथ जरूर शेयर करें।

        यदि आपको आवेदन करने में यदि कोई परेशानी हो रही है तो आप हमसे सहायता ले सकते हैं। कृपया अपना प्रश्न नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें। हमारी टीम आपकी पूरी सहायता करेगी। यदि आपको किसी और राज्य या केंद्र सरकार की योजना की जानकारी चाहिए तो कृपया हमें कमेंट बॉक्स में हमसे पूछें।

        यह भी पढ़ें ---:

        1 comment:

        आपका हमारी वेबसाइट Hindireaders.in पर कमेंट करने के लिए ध्यन्यवाद। हमारी टीम आप से जल्द ही संपर्क करेगी तथा आपकी समस्या का हल करेगी। हमारी वेबसाइट Hindireaders.in पर आते रहें।