Saturday, February 4th, 2023

लबों को हिंदी लिरिक्स – Labon Ko Hindi Lyrics (K.K., Bhool Bhulaiyaa)

मूवी या एलबम का नाम : भूल भुलैया (2007)
संगीतकार का नाम – प्रीतम चक्रबर्ती
हिन्दी लिरिक के लिरिसिस्ट – सईद कादरी
गाने के गायक का नाम – के.के.

लबों को लबों पे सजाओ
क्या हो तुम मुझे अब बताओ
तोड़ दो, खुद को तुम, बाहों में
मेरी बाहों में, मेरी बाहों में
मेरी बाहों में, बाहों में…

तेरे एहसासों में, भीगे लम्हातों में
मुझको डूबा तिश्नगी सी हैं
तेरी अदाओं से, दिलकश खताओं से
इन लम्हों में ज़िन्दगी सी है
हया को ज़रा भूल जाओ
मेरी ही तरह पेश आओ
खो भी दो खुद को तुम, रातों में
मेरी रातों में, मेरी रातों में
मेरी रातों में
लबों को लबों पे…

तेरे जज़्बातों में, महकी सी साँसों में
ये जो महक संदली सी है
दिल की पनाहों में, बिखरी सी आहों में
सोने की ख्वाहिश जगी सी है
चेहरे से चेहरा छुपाओ
सीने की धड़कन सुनाओ
देख लो खुद को तुम, आँखों में
मेरी आँखों में, मेरी आँखों में
मेरी आँखों में
लबों को लबों पे…