Home Top Ad

आधार हाउसिंग फाइनेंस लोन भवन विस्तारीकरण व अन्य प्रकार के ऋण

Share:
Aadhaar Housing Finance, Building Expansion & Loan Against Property / Personal Loan / Gold / Share Application & Process

1. आधार हाउसिंग फाइनेंस से स्वनियोजित व्यक्ति के लिए लोन की प्रक्रिया

Procedure for Loan under Aadhaar Housing Finance for Self Employed Person -: स्वनियोजित (स्वरोजगार) व्यक्ति को बेंक से ऋण प्राप्त करने में काफी समस्या का सामना करना पड़ता है, क्योकि व्यक्ति के पास पे-स्लिप यानी वेतन पर्ची (Pay Slip) नहीं होती और ना ही व्यवसाय ऋण की राशी जमा करने के लिए अपनी सहमती देता है। इस स्थिति में बैंकों को अपना दिया गया लोन वापिस न मिलने का भ्रम पैदा हो जाता है और यही भ्रम उन्हें ऐसे व्यक्ति ऋण नहीं देने देता। कोई भी वितीय संस्था सुरक्षित लोन देना चाहता है। आधार हाउसिंग फाइनेंस DHFL का नया रूप है। आधार हाउसिंग फाइनेंस स्व-नियोजित व्यक्ति को प्लाट खरीदने या वर्तमान मकान के विस्तारीकरन के लिए एक करोड़ रुपये या सम्पति के मूल्य का 80% इसमें जो भी कम हो, का ऋण देता है। ऋण देने के लिए निम्न तथ्यों का आंकलन किया जाता है :-
    aadhaar-housing-finance-loan-process
  • ऋण लेने वाले व्यक्ति की आयु 70 वर्ष से कम होनी चाहिए। 
  • ऋणग्रहीता स्वनियोजित या व्यापारी या किसी सेवा उद्योग से संलग्न होना चाहिए। 
  • ऋणग्रहीता एक उद्योग में 3 वर्ष तक लगातार काम करना या माता पिता के उद्योग में संलग्न होना ऋण देने के लिए अनिवार्य शर्त है। 
  • ऋणग्रहीता को सम्पति के मूल्य का 20 % की राशी मार्जिन मनी के लिए  जमा करने हेतु सक्षम होना आवश्यक है। 
  • ऋणग्रहीता जिस उपक्रम में काम कर रहा है उस उपक्रम का वैधानिक पंजीयन आवश्यक है। 
  • ऋण ग्रहीता के स्वामित्व की भूमि किसी योजना या अतिक्रमण से मुक्त होना चाहिए। 
  • लोन योग्यता केलकुलेटर के माध्यम अपनी वित्तीय पृष्ठ भूमि का आंकलन कर यह ज्ञात किया जा सकता है कि ऋण लेने के लिए व्यक्ति पात्र है अथवा नही। 

आधार हाउसिंग फाइनेंस लोन अदा करने की अवधि (Time Duration of Re-Payment of Loan Taken under Aadhaar Housing Finance) -: 
लोन अदा करने की अवधि सेवा निवृति  की आयु या 30 वर्ष इनमे से जो भी कम हो निर्धारित है। लोन चुकाने के किश्तों का निर्धारण इस वितीय संस्था द्वारा किया जाता है। किश्तों ब्याज और मूलधन दोनों समाहित होते है। कितनी EMI होगी इसकी गणना EMI केलकुलेटर से की जा सकती है. ऋण हेतु आवेदन पत्र यहाँ पर उपलब्ध है। ब्याज दर 11% से 14.50 % है।

2. भवन विस्तारीकरण के लिए ऋण योजना

Loan for Building Expansion -: परिवार में बच्चे बड़े होने जाने के या पेरेंट्स / माता-पिता की बढती उम्र के कारण एक दो अन्य कमरे की आवश्यकता होती है, या छत पर और कमरों की आवश्यकता है। इसके लिए भी आधार हाउसिंग फाइनेंस ऋण उपलब्ध कराता है। इस ऋण की अधिकतम सीमा 1 करोड़ रूपये है। मकान के विस्तारीकरण के लिए चार्टेड इंजिनियर के अनुमान और संस्था के इंजिनियर के अनुमान में जो भी कम हो 100% का 80 % ऋण उपलब्ध कराया जायेगा। इस ऋण की अवधि सेवा निवृति की आयु (स्वनियोजित के लिए 70 वर्ष ) या 20 वर्ष इनमे से जो भी कम हो निर्धारित है। ऋण के लिए आवेदन पत्र यहाँ पर उपलब्ध है। इस आवेदन को ऑनलाइन भी भरा जा सकता है व्यक्ति की आर्थिक पृष्ठभूमि के आधार पर कितना अनुमानित ऋण प्राप्त होगा इसका आंकलन लोन योग्यता केलकुलेटर से की जा सकता है। इस ऋण के लिए ब्याज दर 11 से 14.50% के मध्य है। जब सब तरफ से व्यक्ति निराश हो जाता है तभी इस प्रकार के ऋण लेने चाहिए। प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhan Mantri Awas Yojana - PMAY / Prime Minister Housing Scheme) गृहनिर्माण और विस्तारीकरण सबसे अच्छा विकल्प है। क्योकि इस योजना में ब्याज दर काफी कम है और सब्सिडी का प्रावधान है।

3. प्रॉपर्टी के बदले लोन योजना

Loan Against Property Scheme -: अगर आपके पास घर है और आप बड़ा लोन लेना चाहते हैं तो आप उस संपत्ति के बदले बैंक से लोन ले सकते हैं। इस तरह आप पांच लाख से लेकर 10 करोड़ रुपये तक का लोन ले सकते हैं। इसमें लोन की अवधि 2 से लेकर 15 साल तक हो सकती है।

बैंक आपको प्रॉपर्टी की वैल्यू का 65% तक लोन दे देते हैं। इसके लिए जरूरी है कि घर का बीमा कराया गया हो। इसमें प्रोसेसिंग फीस 1.5-2% जबकि समय से पहले लोन चुकाने की फीस 2-3 फीसदी है।
ब्याज दर : 9.5-13%

4. पर्सनल लोन / यक्तिगत ऋण 

Personal Loan -: आप यह लोन 30 मिनट से लेकर तीन दिन के अंदर पा सकते हैं। यह बैंक के साथ आपके संबंधों पर निर्भर करता है। अगर आपके अकाउंट पर कोई प्री-अप्रूव्ड (पहले से मंजूर) लोन का ऑफर है तो इसके बाद प्रक्रिया बहुत आसान हो जाती है।
  • ब्याज दर: 13-24% 
  • फायदे: अपने बैंक से पर्सनल लोन लेने पर तुरंत भुगतान 
  • नुकसान: प्रोसेसिंग फीस के रूप में 2-3 फीसदी चार्ज लगता है. इसके अलावा आपको मासिक क़िस्त पर GST चुकाना पड़ता है। 




5. शेयरो के बदले लोन 

Loan Against Shares -: शेयरों के बदले लोन आप अपने शेयर, म्यूचुअल फंड, फिक्स्ड डिपाजिट या बीमा पॉलिसी के बदले भी लोन ले सकते हैं। म्यूचुअल फंड और शेयर के मामले में बैंक आपको निवेश की रकम के 50 % तक का लोन दे देते हैं। फिक्स्ड डिपाजिट के मामले में आपको निवेश की रकम का 75% तक ब्याज मिल सकता है।
  • ब्याज दर: 9-15% 
  • फायदे: तुरंत भुगतान, कम ब्याज दर 
  • नुकसान: अगर पोर्टफोलियो की वैल्यू गिरती है तो आपको लोन देने वाले संस्थान के पास ज्यादा फंड रखना पड़ेगा।  

6. सोने के बदले लोन

Gold Loan -: आप अपने पास रखे सोने या सोने के गहने के बदले भी लोन ले सकते हैं। बैंक आपको सोने की वैल्यू के बदले 10,000 रुपये से लेकर 25 लाख रुपये तक का लोन दे सकते हैं। आमतौर पर लोन चुकाने की अवधि 6-12 महीने तक होती है।

जब आप लोन की रकम चुकाते हैं तो गिरवी के रूप में रखा गया सोना आपको वापस मिल जाता है।
ब्याज दर : बैंक से 10-17%, नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनी से 14-26%
फायदे : कुछ घंटे में लोन मिल जाता है।


✥✥✥✥✥✥
आपका समर्थन
____________
उम्मीद है आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी से जरूर लाभ मिलेगा। यदि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई हो तो कृपया अपने मित्रों तथा परिवारजनों के साथ जरूर शेयर करें।

यदि आपको आवेदन करने में यदि कोई परेशानी हो रही है तो आप हमसे सहायता ले सकते हैं। कृपया अपना प्रश्न नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें। हमारी टीम आपकी पूरी सहायता करेगी। यदि आपको किसी और राज्य या केंद्र सरकार की योजना की जानकारी चाहिए तो कृपया हमें कमेंट बॉक्स में हमसे पूछें।


इन्हें भी देखें ----:

No comments

आपका हमारी वेबसाइट पर कमेंट करने के लिए ध्यन्यवाद। हमारी टीम आप से जल्द ही संपर्क करेगी तथा आपकी समस्या का हल करेगी। हमारी वेबसाइट पर आते रहें।