ब्लैक जमा है हिंदी लिरिक्स – Black Jama Hai Hindi Lyrics (Sukhwinder Singh, Raid)

मूवी या एलबम का नाम : रेड (2018) संगीतकार का नाम – अमित त्रिवेदी हिन्दी लिरिक के लिरिसिस्ट – इंद्रनील गाने के गायक का नाम – सुखविंदर सिंह ब्लैक, ब्लैक, ब्लैक चीर के दीवारें कुरेद के किवाड़ें खोद के निकाले गड़ा है जो है तिजोरियों में या बंद बोरियों में ख़ुफ़िया कहीं पे पड़ा है जो बतलाता है काले धंधों का पारा, पारा खज़ाना तेरा ये सारे का सारा सारा, सारा… है ब्लैक, जमा है ब्लैक जमा है ब्लैक, जमा है जो रसीद के बिना है, ब्लैक जमा है ब्लैक, जमा है ब्लैक जमा है हक़ से तेरे सौ गुना है हराम से कमाया है चुराया है, चुराया है, चुराया है अवाम की निगाह से छुपाके के जो, जमाया है, जमाया है.. साम दाम दंड भेद मुझको ना किसी का खेद चु रहा है मुल्क ये जिधर से है तू ही वो छेद… देर से सही पर दुरुस्त है ये छापा बन के तमाचा पड़ा है जो हर किये धरे का हिसाब माँगता है बही किताब ले के खड़ा है जो बतलाता है काले धंधों का पारा, पारा खजाना तेरा ये सारे का सारा, सारा सारा है ब्लैक…

You may also like...